24.1 C
ahmadnagar,IN
Tuesday, October 15, 2019
Home Tags Vishw

Tag: vishw

शाश्‍वत यौगिक खेती (नये युग के लिए नया कदम) – योग...

योग के प्रयोग के लिए सिर्फ आवश्यकता है परमात्मा के ऊपर विश्वास और जमीन तथा फसल के साथ स्नेह और प्रेम से रिश्ता जोड़ना।...

शाश्‍वत यौगिक खेती (नये युग के लिए नया कदम) – योग...

8) दिव्य गुण - ऐसे ही गुण मूर्त बन, दिव्य गुणों के भण्डार परमात्मा की याद में एकाग्र होकर जमीन और फसल को प्रकंपन...

शाश्‍वत यौगिक खेती (नये युग के लिए नया कदम) योग के...

6) आनन्द स्वरूप - जब हम आत्म- अभिमानी बन आनन्द स्वरूप में स्थित होकर आनन्द के सागर परमात्मा की याद में एकाग्र होते हैं...

शाश्‍वत यौगिक खेती (नये युग के लिए नया कदम) – योग...

पानी में अंगुलियॉं रखकर प्रेम स्वरुप में स्थित होकर प्रेम के सागर परमात्मा की याद में लवलीन होकर अभ्यास करें कि प्रेम की किरणें...

शाश्‍वत यौगिक खेती (नये युग के लिए नया कदम) – योग...

(2) पवित्र स्वरूप - जब हम आत्मा पवित्र स्वरूप में स्थित होकर पवित्रता के सागर परमात्मा की याद में एकाग्र होती हैं तो हमारे...

शाश्‍वत यौगिक खेती (नये युग के लिए नया कदम) – योग...

योग के प्रयोग में अपने सूक्ष्म शरीर (फरिश्ता स्वरूप) द्वारा, अपनी प्रयोग वाली खेती को सूक्ष्म वतन में बापदादा के सम्मुख ले जाकर बापदादा...

शाश्‍वत यौगिक खेती (नये युग के लिए नया कदम) – योग...

यह प्रयोग प्रतिदिन एक ही समय, एक ही जगह बैठकर एक ही विधि से करना है । इसके लिए चाहे खेती में बैठो या...

शाश्‍वत यौगिक खेती (नये युग के लिए नया कदम) – योग...

आत्मा मूलत: ज्ञानस्वरूप, पवित्र स्वरूप, शान्त स्वरूप, प्रेम स्वरूप, सुख स्वरूप, आनन्द स्वरूप, शक्ति स्वरूप और दिव्य गुणों से युक्त है और परमात्मा इन...

शाश्‍वत यौगिक खेती (नये युग के लिए नया कदम) – योग...

चलते-फिरते, उठते-बैठते, कोई भी कर्म करते स्वयं को सत्य निज स्वरूप में अनुभव करना, यह अभ्यास बहुतकाल से पक्का और सहज रहे। आत्मा की तीन...

शाश्‍वत यौगिक खेती (नये युग के लिए नया कदम) – योग...

प्राचीन काल के तपस्वियों की तपस्या के बारे में हम सबने सुना है कि जब ऋषि-मुनि गुफाओ में बैठकर तपस्या करते थे, तो उनकी...

MOST POPULAR

HOT NEWS

error: Content is protected !!